मजदूरों का हक़ दिलाने गई लड़की पर हत्या का मामला

HTN24, सोनीपत। मजदूरों के हक के लिए उनकी मजदूरी दिलाने के लिए किसान आंदोलन के साथ लड़ रही नवदीप कौर को आज सुबह 12 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया गया और धारा 307 (हत्या की कोशिश) के साथ जबरन वसूली का केस लगाया गया है। नवदीप कुछ मजदूरों के साथ फैक्टरी नंबर 349 में गए तो वहाँ फैक्टरी का गेट बंद कर दिया गया सभी मजदूरों ने मिलकर नारे लगाने शुरू किए जिसके जवाब में फैक्टरी की quick response team के 5-6 लोगों ने फैक्टरी के मालिक से बात करने की बात कही लेकिन थोडी देर में लोकल थाने की पुलिस वहाँ आती है और बात कर रहे लड़के और लड़की से बातचीत करने की बजाय उन पर पुरुष पुलिस ने हमला किया तो वहाँ दोनो में हाथापाई हुई और पुलिस की तरफ से 17 गोली हवा में चलाई गई थी। नवदीप कौर को भी पुरुष पुलिस ने ही मारा और उठा कर थाने ले गए मजदूर किसान संगठन अभी तक करीब 300 मजदूरों की बाकि मजदूरी दिलवाई है जिनमें से रमेश सीतापुर भी एक मजदूर है जिनके 6420 रुपए दिलवाए गए हैं मनीष के 6500 दिलवाए गए हैं और इनके जैसे हीऔर भी मजदूरों को पैसे दिलवाये हैं लेकिन अब फैक्टरी मालिक और पुलिस आक्रामक रवैया अपना रही है। वहीं पुलिस अधिकारी ने बताया कि नवदीप नाम की लड़की कुछ लड़कों के साथ फैक्टरी के आगे जबरन वसूली कर रही थी मामले की जानकारी पर पुलिस पहुंची तो उन पर हमला कर दिया गया। सवाल ये है कि अगर जबरन वसूली का मामला है तो धरना देकर कौन वसूली करता है ? क्या पुलिस अधिकारी मजदूरों के पैसे दिलाने को जबरन वसूली कह रहे हैं ?